कानपुर : 8 पुलिसकर्मियों की हत्या करने वाले विकास दुबे पर यूपी सरकार की कार्रवाई, JCB से ढहाया गया मकान

2
170

कुख्यात अपराधी और 8 पुलिसकर्मियों की हत्या करने वाले विकास दुबे के खिलाफ उत्तर प्रदेश सरकार ने सख्त कार्रवाई की. सरकार ने JCB से विकास दुबे का मकान ढहा दिय़ा है..

लखनऊ: 

कुख्यात अपराधी और कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या करने वाले विकास दुबे (Vikas Dubey) के खिलाफ उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Govt) ने सख्त कार्रवाई की. सरकार ने शनिवार को JCB से विकास दुबे का मकान ढहा दिय़ा है. मकान को गिराने के लिए प्रवर्तन दस्ते की टीम आज JCB मशीन लेकर कानपुर (Kanpur) के बिकरु गांव पहुंची. इस दौरान, प्रवर्तन दस्ते के साथ भारी पुलिस बल भी गांव में मौजूद रहा. बताया जा रहा है कि अपराधी विकास दुबे का घर गैर-कानूनी तरह से बनाया गया था. विकास दुबे अब भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है और उसकी तलाश में पुलिस की कई टीमें लगाई गई हैं

बता दें कि गुरुवार देर रात विकास दुबे और उसके साथियों ने गांव में दुबे की तलाश में दबिश देने गए पुलिसकर्मियों पर फायरिंग कर दी थी और आठ पुलिस कर्मियों को मौत के घाट उतार दिया था. हमले के बाद अपराधी पुलिस की एके-47, इंसास रायफल, ग्लॉक पिस्टल और 99 एमएम पिस्टल लूटकर फरार हो गए. इस घटना में एक क्षेत्राधिकारी सहित 8 पुलिसकर्मियों ने जान गंवाई. पुलिस ने बताया कि गुरुवार की रात की उक्त घटना के बाद शुक्रवार सुबह पुलिस के साथ दोबारा हुई मुठभेड़ में दो अपराधी मारे गये हैं. इनमें से एक के पास से पुलिस से लूटा गया एक हथियार बरामद कर लिया गया है.

पीटीआई-भाषा की एक खबर के मुताबिक, कुख्यात अपराधी विकास को पकड़ने के लिये पुलिस की 25 से अधिक टीम उत्तर प्रदेश और अन्य प्रदेशों में लगातार छापेमारी कर रही हैं लेकिन घटना के करीब 36 घंटे बाद भी वह पुलिस की पकड़ से बाहर है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक, कुछ पुलिसकर्मियों से भी पूछताछ की जा रही है ताकि यह जाना जा सके कि दुबे को उसके घर पर पुलिस की छापेमारी के बारे में पहले से खबर कैसे लगी जिससे उसने पूरी तैयारी के साथ पुलिस दल पर हमला किया.

कानपुर के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) मोहित अग्रवाल ने पीटीआई-भाषा को बताया, “विकास दुबे और उसके सहयोगियों को पकड़ने के लिये पुलिस की 25 टीमें लगाई गई हैं जो प्रदेश के विभिन्न जिलों के अलावा कुछ दूसरे प्रदेशों में भी छापेमारी कर रही हैं.” हालांकि, उन्होंने कहा कि यह नहीं बताया जा सकता कि पुलिस की टीमें किन-किन जनपदों में और किन प्रदेशों में तलाशी अभियान चला रही है.

जानकारी देने वाले 50 हजार का इनाम 

आईजी ने विकास दुबे के बारे में सही जानकारी देने वाले को पचास हजार रुपये का इनाम भी देने की घोषणा की है और जानकारी देने वाले की पहचान गुप्त रखने की बात कही है.  पुलिस के अनुसार मुठभेड में घायल सात पुलिसकर्मियों का कानपुर के एक निजी अस्पताल में चल रहा है. जहां सभी की हालत स्थिर बतायी जा रही है. लखनऊ पुलिस ने शुक्रवार शाम को विकास दुबे के कृष्णानगर स्थित मकान पर भी छापा मारा था लेकिन वहां दुबे नही मिला. 

योगी आदित्यनाथ बोले- जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी

घटना के बाद शुक्रवार शाम कानपुर पहुंचे प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चौबेपुर थानाक्षेत्र में अपराधियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुए पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी और घटना के लिए जिम्मेदार किसी अपराधी को बख्शा नहीं जाएगा. योगी ने शहीदों के परिवारों को एक-एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने का भी एलान किया था.

2 COMMENTS

Leave a Reply to admin Cancel reply

Please enter your comment!
Please enter your name here